flirt shayari | फ़्लर्ट शायरी

Also Read

 

flirt shayari

किसी के दिल में बसना कुछ बुरा तो नही,  किसी को दिल में बसाना कोई  खता तो नही, गुनाह हो ये ज़माने की नजर में तो क्या, यह ज़माने वाले कोई खुदा तो नही।


ढाई अक्षर की बात कहने में कितनी तकलीफ़ उठा रखी है, तूने होंठो में दबा रखी है मैंने आंखो में छिपा रखी है। 🙈🥺😘😍😔

flirt shayari


तुम्हारी एक आहट से ही दिल की धड़कने बढ़ जाती हैं 👉❤️😍 अगर तुम सामने आ गई तो ना जाने क्या होगा मेरा.....? 🙈🙈🥰😇


तेरे हाथ की मैं वो लकीर बन जाऊं, सिर्फ मैं ही तेरा मुक़दर तेरी तक़दीर बन जाऊं, मैं तुझे इतना चाहू की तू भूल जाए हर रिश्ता सिर्फ मैं ही तेरे हर रिश्ते की तस्वीर बन जाऊं, तू आंखें बंद करे तो आऊं मैं ही नज़र, इस तरह मैं तेरे हर खवाब की ताबीर बन जाऊ

फ़्लर्ट शायरी


तेरी पहली मुलाकात जिन्दगी में एक बहार लाई थी हर आईने में तेरी तस्वीर मुझे नजर आई थी लोग कहते हैं प्यार में नींद उड़ जाती है हमने तो नींदों में ही प्यार की दुनिया बनाई थी


अब हम ने भी कलम रखना सीख लिया है , जिस दिन भी कोई कहेगा कि हम तुम्हारे हैं , दस्तखत करवा लेंगे। ।


दुप्पटे को छुआ था तेरे पल भर के लिए.. खबर ना हुई कब दिल तेरी ख्वाहिश करने लगा..

flirt shayari in hindi


औरों का बताया हुआ रस्ता नहीं चुनते, जो इश्क़ चुना करते हैं,वो दुनिया नहीं चुनते..!


तुझसे बेइंतहा मोहब्बत है बस इतना कुबूल कर पाऊ.., बता कौन सी राह से आऊ कि तुझ तक पहुँच जाऊ....!


प्यार तब नहीं होता जब आप चाहते हो.., प्यार तब हो जाता है जब आप किसी में खुद को ढूंढ लेते हो..!!

best flirt shayari


पकड़ कर हाथ मेरा, तुम सफर आसान कर देना, मेरे गम से मेरे साथी, मुझे अंजान कर देना, छुड़ाए साँस भी मुझसे कभी पीछा जो ऐ हमदम, लगाना तुम गले मुझको कि ये एक एहसान कर देना.....!!


वो मोहब्बत अपने अंदाज मे जताता है ! जब खुश होता है मेरे लिए चाय बनाता है Happy morning ☕☕

flirt shayari for girl


कब तक वो मेरा होने से इंकार करेगा...! खुद टूट कर वो एक दिन मुझसे प्यार करेगा...!! इश्क़ की आग में उसको इतना जला देंगे...!!! कि इज़हार वो मुझसे सर-ए-बाजार करेगा...!!!!


😘 पगली 😘 *❤❤बिना __मिले _ही _तेरा _यूं* *प्यार _करना _मुझसे...*......!!!!!!😘❤❤ *❤❤बस _तेरी _यही _चाहत* *_तो _मुझे _पसन्द है..!!*😘❤❤ 😘😘😘😘😘😘

flirt shayari to impress a girl


दिल तक पहुँचने का रास्ता, वफ़ा के समंदर से होकर गुजरता है। हर लहर पे नाव बदलने वाले, मंजिल तक नही पहुँचा करते।।


मैं तो उसका हाथ पकड़ने में भी शर्माती हूं, वो पागल मुझे अपनी बाइक पर बिठाकर पुरे शहर के चक्कर लगाना चाहता है..🏍

flirt shayari hindi


उसकी मोहब्बत को इस कदर निभाते हैं हम , वो नहीं है तकदीर में फिर भी उसको चाहते हैं हम..!


पहली मुलाकात अब भी याद है, उनको देर हो रही थी, फिर भी मेरा हाथ पकड़ रखा था !

Post a Comment

और नया पुराने